Govt. of Madhya Pradesh

Indira Gandhi Maternity Support Plan in Madhya Pradesh/मध्य प्रदेश में इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना

Indira Gandhi Maternity Support Plan launched by Government of Madhya Pradesh. The main objective behind introducing this scheme is to partially compensate the loss of wages for pregnant and lactating women before and after the birth of their baby and to improve the status of health and nutrition of pregnant and lactating women. The scheme has been endorsed on 24th September 2011 by the Government of Madhya Pradesh, Women and Child Development Department. The scheme is being executed in towns by Anangwadi Centers through the structure of Integrated Child Development. The applicant who willing to get benefits of this scheme should apply at Nearest Anangwadi or District Women and Child Development office. Under this scheme a total amount of Rs. 4000 in three installments is being given to women who fulfills the eligibility and conditions

 Benefits of Indira Gandhi Maternity Support Plan in Madhya Pradesh:

  • Indira Gandhi Maternity Support Plan help in the form of financial assistance to the women
  • Under this scheme total amount of Rs. 4000 in three installments is being given to women who fulfills the eligibility and conditions
  • The scheme provides Rs. 200 to Anangwadi Worker and Rs. 100 to Assistant on the basis of per beneficiary, is given as incentive amount
  • This is prime initiative taken by Madhya Pradesh government for women and girls of the state

Required eligibility and conditions for applying Indira Gandhi Maternity Support Plan in Madhya Pradesh:

  1. Pregnant and lactating women of 19 years of age or older are eligible for their first two live babies
  2. All girls and women who are residence of Madhya Pradesh state are eligible under this scheme or can take benefit of this scheme

Document required for applying Indira Gandhi Maternity Support Plan in Madhya Pradesh:

  1. Aadhar card
  2. Birth certificate
  3. Residence proof
  4. Bank details e.g. IFSC code, MICR code, branch name, account number
  5. Identity proof
  6. BPL ration card (if available)

Application procedure:

  1. This scheme is implemented by Ministry of Women and Child Development. The applicant who willing to get benefits of this scheme should apply at Nearest Anangwadi or District Women and Child Development office

Contact Details:

  1. Nearest Anangwadi or District Women and Child Development office

References & details:

  1. For more details regarding documents and other help please visit official website
  2. Official Website: http://www.mpwcd.nic.in/scheme-mission

 

मध्य प्रदेश में इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना इस योजना को शुरू करने के पीछे मुख्य उद्देश्य गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के स्वास्थ्य और पोषण की स्थिति में सुधार करने के लिए और उनके बच्चे के जन्म से पहले और उसके बाद गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए मजदूरी के नुकसान को आंशिक रूप से क्षतिपूर्ति करना है। यह योजना मध्य प्रदेश, महिला एवं बाल विकास विभाग की सरकार द्वारा 24 सितंबर, 2011 को अनुमोदित की गई है। यह योजना एकीकृत बाल विकास की संरचना के माध्यम से अनंगवाडी केंद्रों द्वारा शहरों में कार्यान्वित की जा रही है। आवेदक जो इस योजना के लाभ प्राप्त करने को तैयार हैं, उन्हें निकटतम अनंगवाडी या जिला महिला एवं बाल विकास कार्यालय में आवेदन करना चाहिए। इस योजना के तहत कुल राशि रु। 4000 महिलाओं को तीन किश्तों में  की राशि दी जा रही है जो पात्रता और शर्तों को पूरा करती हैं

मध्य प्रदेश में इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना के लाभ:

  • महिलाओं के लिए वित्तीय सहायता के रूप में इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना
  • इस योजना के तहत कुल राशि रु। 4000 महिलाओं को तीन किश्तों में की राशि दी जा रही है जो पात्रता और शर्तों को पूरा करती हैं
  • इस योजना में रु। 200 अनंगवाडी कार्यकर्ता और रु। 100 प्रति लाभार्थी के आधार पर सहायक को, प्रोत्साहन राशि के रूप में दिया जाता है
  • यह राज्य की महिलाओं और लड़कियों के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा की गई प्रमुख पहल है

मध्यप्रदेश में इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना को लागू करने के लिए आवश्यक पात्रता और शर्तें:

  1. 1 9 वर्ष या उससे अधिक की गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अपने पहले दो जीवित बच्चों के लिए पात्र हैं
  2. मध्य प्रदेश राज्य का निवास करने वाले सभी लड़कियों और महिलाओं को इस योजना के तहत पात्र हैं या इस योजना के लाभ ले सकते हैं

मध्य प्रदेश में इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना को लागू करने के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  1. आधार कार्ड
  2. जन्म प्रमाण पत्र
  3. निवास प्रमाण
  4. बैंक विवरण उदा। आईएफएससी कोड, एमआईसीआर कोड, शाखा का नाम, खाता संख्या
  5. पहचान प्रमाण
  6. बीपीएल राशन कार्ड (यदि उपलब्ध हो)

आवेदन की प्रक्रिया:

  1. यह योजना महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा लागू की गई है। आवेदक जो इस योजना के लाभ प्राप्त करने को तैयार हैं, उन्हें निकटतम अनंगवाडी या जिला महिला एवं बाल विकास कार्यालय में आवेदन करना चाहिए

संपर्क:

  1. निकटतम अनंगवाडी या जिला महिला एवं बाल विकास कार्यालय

अधिक जानकारी के लिए संदर्भ:

  1. दस्तावेजों और अन्य सहायता के बारे में अधिक जानकारी के लिए, आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  2. आधिकारिक वेबसाइट: http://www.mpwcd.nic.in/scheme-mission
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

NekiKiDeewar.in

Most Popular

To Top