Govt of Chhattisgarh

Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana in Rajasthan / राजस्थान मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना

Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana is a new scheme introduced by state Government of Rajasthan. Chief Minister of Rajasthan, Vashundhara Raje has announced this scheme to make the youth skilled and employable. Under the scheme, the state government provides loans at subsidized interest rates to youth for skill development training

The Rajasthan government aims to provide good opportunity to the youths of the state to improve their skills & also provide employment opportunity to the youth. Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana started from 1st January 2017 and in this scheme government provides a loan of Rs. 1 lack to the youth for their skill development. The main objective of Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana is to make youth self reliant by equipping them with the skills needed for employment. Making the youth employable by providing development skills training to them is top priority of the state government of Rajasthan. Employment is a very big problem in the majority of the states in India. After completing the education, large number of youths facing problem to get jobs. This is happen because during their academic session they are not getting skill training required for jobs. To solve this problem government of Rajasthan plans to provide some skill training under Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana. Now, youth can easily get a loan up to 1 lack under Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana

Benefits of Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana:

  • Benefits of loan of up to Rs. 1 Lakh at an interest subsidy of 4 to 6 percent
  • Benefits to make the youth skilled and employable

Features of Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana:

  1. The state government of Rajasthan provides loan amount of up to Rs. 1 Lakh to the youths in need for improving their skills at subsidy interest of 4 to 6%
  2. The scheme is specially launched for the talented and unemployed youths of the Rajasthan State. The scheme is planned to provide necessary financial assistant for the state Youths in need
  3. The primary focus of this scheme is it to offers skill oriented development training for the Rajasthan Youths so that they can be employable
  4. This scheme will be implemented under the guidelines set by the center’s National Skill Development Agency (NSDA) specially designed to train youths to develop their skills

Eligibility criteria for Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana:

  1. Applicant must be resident of Rajasthan
  2. Youth who have less money to get training for skill development are eligible for this scheme

How to apply for Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana:

  1. Applicant should be visit Department of Skill, Employment and Entrepreneurship website http://employment.livelihoods.rajasthan.gov.in/index.aspx
  2. Applicant also visit social welfare office in Rajasthan

Contact Details:

  1. Commissioner, Skill, Employment & Entrepreneurship Darbar School Campus Gopinath Marg, New Colony Jaipur-302002,Rajasthan
  2. Phone No- 0141-2373675, 2368850
  3. E-mail: jpr.emp@rajasthan.gov.in
  4. To get more information call Toll Free-1800-180-6127

References & Details:

  1. For more details about Mukhyamantri Kaushal Anudaan Yojana visit: https://rajasthan.gov.in/government/Pages/default.aspx
  2. Department of Skill, Employment and Entrepreneurship visit: http://employment.livelihoods.rajasthan.gov.in/Index.aspx

 

राजस्थान मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा सुरु की गई योजना है। राजस्थान मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना के द्वारा युवाओंको कुशल और रोजगार प्राप्त बनाने के लिए इस योजना की घोषणा की गई है। इस योजना के तहत राज्य सरकार ने कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए युवाओं को रियायती ब्याज दरों पर ऋण प्रदान करने का प्रावधान है। इस योजना के द्वारा राजस्थान सरकार ने युवाओं के कौशल में सुधार और रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रयत्न किये है। राजस्थान मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना 1 जनवरी 2017 से शुरू की गयी है। इस योजना के द्वारा सरकार ऋण प्रदान करता है।

मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना का लाभ:

  • 1 लाख रुपये तक के ऋण का 4 से 6 प्रतिशत की ब्याज सब्सिडी का लाभ।
  • युवाओं को कुशल और रोजगार प्राप्त बनाने का लाभ।

मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना की विशेषताएं:

  • राजस्थान के राज्य सरकार द्वारा 1 लाख रुपये तक के ऋण का 4 से 6 प्रतिशत की ब्याज सब्सिडी दी जाएगी।
  • योजना विशेष रूप से राजस्थान राज्य के प्रतिभाशाली और बेरोजगार युवाओं के लिए शुरू की गई है।
  • योजना की जरूरत राज्य के युवाओं के लिए आवश्यक वित्तीय सहायक प्रदान करने की है।
  • इस योजना का प्राथमिक ध्यान राजस्थान के युवाओं के लिए कौशल प्रदान करना और प्रशिक्षण देना है।
  • इस योजना के दिशा-निर्देशों से केंद्र के राष्ट्रीय कौशल विकास एजेंसी (एनएसडीए) द्वारा निर्धारित विशेष रूप से युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए अपने कौशल को विकसित करने के लिए डिज़ाइन लागू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना के लिए पात्रता मानदंड:

  • आवेदक राजस्थान का निवासी होना चाहिए।
  • ऐसा युवा जो आर्थिक रूप में कम है पर योग्यता रखते है ऐसे युवा इस कौशल विकास योजना के प्रशिक्षण पाने के लिए पात्र हैं।

मुख्यमंत्री कौशल अनुदान योजना के लिए कैसे आवेदन करे:

  • आवेदक कौशल विभाग का दौरा किया जाना चाहिए, रोजगार और उद्यमिता वेबसाइट http://employment.livelihoods.rajasthan.gov.in/index.aspx
  • आवेदक भी राजस्थान में समाज कल्याण कार्यालय का दौरा करे

संपर्क विवरण:

  • आयुक्त, कौशल, रोजगार और उद्यमिता दरबार स्कूल परिसर गोपीनाथ मार्ग, नई कालोनी जयपुर-302002, राजस्थान
  • फ़ोन नहीं- 0141-2373675, 2368850
    ई-मेल: jpr.emp@rajasthan.gov.in
  • अधिक जानकारी के लिए फोन टोल प्राप्त करने के लिए फ्री- 1800-180-6127

सन्दर्भ और विवरण:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

NekiKiDeewar.in

Most Popular

To Top