Tb-Mission 2020 / क्षय रोग मिशन 2020

क्षय रोग मिशन 2020 यह मिशन भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया है। यह मिशन भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के अन्तर्गत आता है। यह मिशन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ है) ग्लोबल क्षय रोग कार्यक्रम को संबोधित करते हुए 2020 तक भारत को क्षय रोग से समाप्त करने के लिए क्षय रोग मिशन 2020 बार्सिलोना में 2014 में घोषणा की थी। क्षय रोग महामारी को समाप्त करने करने के लिए जाने: 2015 में रणनीति तैयार की है ।

क्षय रोग मिशन 2020 का लाभ:

  1. इस मिशन के द्वारा सरकारी और निजी अस्पतालों में मरीजों को मुफ्त निदान और उपचार के साथ ही पोषण का समर्थन और प्रासंगिक वित्तीय समर्थन प्रदान किया जायेगा।
  2. इसके अलावा सरकार ने राष्ट्रीय दवा कानून की अलग अनुसूची के तहत टीबी विरोधी दवाओं को लाने के लिए वाणिज्यिक सीरम विज्ञान पर प्रतिबंध लगाने के लिए कदम उठाये है।

क्षय रोग (टीबी) क्या है?

  1. क्षय रोग (टीबी) बैक्टीरिया के कारण होता है। क्षय रोग का इलाज और रोका जा रहा है। क्षय रोग हवा के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। जब फेफड़ों में क्षय रोग हो तो खांसी के द्वारा यह रोग फैलता है। एक व्यक्ति को संक्रमित बनने के लिए क्षय रोग का केवल एक कीटाणु की ही आवश्कयता है।

क्षय रोग 2020 की विशेषताएं:

  1. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने क्षय रोग मिशन 2020 का शुभारंभ किया है ।
  2. इस मिशन की घोषणा बार्सिलोना में 45 वें संघ विश्व सम्मेलन को संबोधन करते दौरान किया गया।
  3. प्रतिनिधिमंडल में ब्रिक्स देशों से तकनीकी विशेषज्ञों की बैठक की अध्यक्षता की।
  4. क्षय रोग नियंत्रण प्रमुख एजेंडा ब्रिक्स स्वास्थ्य मंत्रियों के लिए घोषित दिसंबर 2014 में पूरा कर दिया गया था।

क्षय रोग के खिलाफ भारत के प्रयास :

  1. भारत में भर में सभी के लिए व्यवस्थित डॉट्स रणनीति डिजाइन कार्यक्रम मार्च 2006 में शुरु किया गया।
  2. अच्छे निदान और इस प्रकार संक्रामक रोगियों की पहचान करने की अनुमति होगी।
  3. अच्छी गुणवत्ता और ड्रग्स की निर्बाध आपूर्ति: आरएनटीसीपी में पूरे उपचार के लिए दवा का एक बॉक्स इलाज का पूरा कोर्स की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हर पंजीकृत टीबी रोगी के लिए प्रदान की जाती है।
  4. डॉट्स इलाज में इस प्रकार कोई मरीज दवा के बिना नाही होगा।

आवेदन कैसे करे:

  1. मरीज नजीकी सरकारी जिला / तालुका अस्पतालों का दौरा करे।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

Comments

0 comments

Ek Bharat Shreshtha Bharat

Rashtriya Gram Swaraj Abhiyan (RGSA) / राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान